दवा असली है या नकली कैसे पता करे मोबाइल से

दवा असली है या नकली कैसे पता करे? : दोस्तों आज के इस आर्टिकल में मैं आपको दवाई असली है या नकली यह आपके मोबाइल फोन के जरिए कैसे पता लगाए इसके बारे में विस्तार से जानकारी आज के इस आर्टिकल में दूंगा अगर आपको भी दवा के बारे में पता लगाना है कि आप की दवा असली है, या नकली या इस की एक्सपायरी डेट कब तक की है।

 तो आप हमारे आज के हिसाब से कल को आखिर तक अवश्य पढ़ें यह जानकारी आप लोगों के लिए अत्यंत आवश्यक है, और यह आपके परिवार के लोगों के लिए भी आवश्यक है, क्योंकि इसमें हमारे परिवार की सेहत का सवाल होता है। इसलिए दवा असली है या नकली इसके पहचान कैसे करें यह मैं आपको आज के इस पोस्ट के माध्यम से बताऊंगा कृपया करके आप अपना कीमती समय निकाल कर इस पोस्ट को आखिर तक अवश्य पढ़ें।

आज के समय में हम मार्केट से कोई भी सामान खरीदते हैं तो हम उसकी अच्छी तरीके से जांच परख कर के ही खरीदते हैं, चाहे वह चीज छोटी हो या बड़ी हम उसे चीज की पूरी तरह से जांच करते हैं, और उसे खरीदने हैं।

लेकिन जो चीज हमारे लिए सबसे महत्वपूर्ण है हम उस चीज की जांच परख नहीं करते दवा हमारे सेहत के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है, लेकिन हम दवा को खरीदते वक्त दवा असली है, या नकली इसकी जांच नहीं करते जो कि हमारे लिए बहुत आवश्यक है।

दवा को लेकर आप अपनी लाइफ में सीरियस है तो बहुत अच्छी बात है, अगर आप दवा को लेकर सीरियस नहीं है तो आप सीरियस हो जाए आप जितना हो सके उतनी दवा की क्वालिटी को चेक करें।

तो चलिए अब मैं आपको दवा असली है या नकली कैसे पता करे मोबाइल से नीचे के आर्टिकल में बताता हूं।

asali nakli dawa ki pahchan,

दवा असली है या नकली कैसे पता करे मोबाइल से

आपको तो यह बात अवश्य ही पता होगी की मार्केट में बहुत सारे डुप्लीकेट मेडिसिन मिलती है लेकिन उन डुप्लीकेट मेडिसिन की कवरिंग कुछ इस प्रकार से की हुई होती है की असली और नकली में अंतर पहचान पाना बहुत ही मुश्किल हो जाता है यह कारण होता है कि आम आदमी उन दवाइयां की असली नकली के पहचान नहीं कर पाता।

इसी बात को मत दे नजर रखते हुए दवाई बनाने वाली कंपनी अपनी मेडिसन को रजिस्टर करती है, और अपनी दवाइयों पर एक मेडिसन कोर्ट भी उपलब्ध करा रहे हैं।

असली या नकली दवाई की पहचान करने के लिए कागज पर दिए गए नंबर पर आप कॉल करके या फिर एसएमएस के माध्यम से दवाई की क्वालिटी को चेक कर सकते हैं।

01. मोबाइल एप्प से असली – नकली दवा की पहचान कैसे करे ?

अगर आपको दवा असली या नकली के पहचान करनी है, तो इसके लिए सबसे पहले आपके पास एक स्मार्टफोन का होना बहुत आवश्यक है अगर आप एंड्रॉयड फोन का इस्तेमाल करते हैं, तो आप प्ले स्टोर से और अगर आप आईफोन यूजर है, तो एप स्टोर के माध्यम से ps Verify Mobile ऐप को अपने मोबाइल फोन में डाउनलोड कर लेना है।

थोड़ी ही देर में यह एप्लीकेशन आपके मोबाइल फोन में डाउनलोड हो जाएगा एप्लीकेशन डाउनलोड होते ही आप इस एप्लीकेशन को ओपन कीजिए आप जैसे यह एप्लीकेशन को ओपन करेंगे ओपन करने के बाद आपके सामने कुछ बेसिक डीटेल्स आ जाएगी आपको उन डिटेल्स को भरकर Get Started के आइकॉन पर प्रेस करना है। ऐसा करने से आपका मोबाइल फोन रजिस्टर हो जाएगा।

बाद में वहां पर आपको Verify Medicine का ऑप्शन दिखाई देगा आपको उस ऑप्शन पर क्लिक करना है, दवा की वेरिफिकेशन के लिए यहां पर आपको दो ऑप्शन दिखाई देंगे पहला ऑप्शन आप स्कैनर के माध्यम से बारकोड को स्कैन कर सकते हैं, और दूसरा दवा पर दिए गए कोड के माध्यम से अगर आप कोड के माध्यम से वेरिफिकेशन करना चाहते हैं, तो आप Type In ID पर जाएं।

अगले स्टेप में आपको यहां पर दवा पर दिए गए कोड को डालना है, यह कोड आपको दवाई के रैपर पर मिल जाएगा तो दिए गए बॉक्स में यह कोड भर और बाद में आपको GO का विकल्प दिखाई देगा आप उस विकल्प को चुनें।

जैसे ही आप GO के आइकॉन पर प्रेस करेंगे प्रेस करने के बाद आपके सामने एक पेज ओपन होगा उसे पेज में आपकी दवाई से रिलेटेड सभी जानकारी मिलेगी आप उसे पेज में यह भी देख सकते हैं, कि आपकी दवाई असली है या नकली और इससे आप यह भी जान सकते हैं कि जिस कंपनी का नाम दवाई पर लिखा गया है, यह दवाई उस कंपनी की है, या फिर नहीं

 तो चलिए अब मैं आपको एसएमएस के माध्यम से दवाई असली या नकली का पता कैसे लगाएं इसके बारे में बताता हूं।

02. SMS के द्वारा असली – नकली दवा की पहचान कैसे करे ?

दोस्तों अगर आपके पास एक स्मार्टफोन नहीं है, और आप एक साधारण फोन का इस्तेमाल करते हैं, तो आपको चिंता करने की कोई आवश्यकता नहीं है, आप एक साधारण फोन के माध्यम से भी दवा असली या नकली का पता लगा सकते हैं, इसके लिए आपको सबसे पहले दवाई के कागज पर दिए गए कोड को 9901099010 पर SMS करना होगा।

एसएमएस करने के थोड़ी ही देर पश्चात आपके मोबाइल फोन पर दवाई से जुड़ी हुई तमाम जानकारियां भेज दी जाएगी इन जानकारी के माध्यम से आप दवाई की कंपनी एक्सपायरी डेट और कुछ अन्य चीजों का पता बड़ी ही आसानी से लगा सकते हैं।

फार्मा सिक्योर की साइट से असली – नकली दवा की पहचान कैसे करे?

सबसे पहले आपको इसके लिए verify.pharmasecure.com पर जाना होगा यहां पर आपको अपना मोबाइल फोन का नंबर और दवा पर दिया गया कोड भरना है, बाद में आपको वहां पर वेरीफाई का ऑप्शन दिखाई देगा आपको उस ऑप्शन पर क्लिक करना है।

थोड़ी ही देर पश्चात आपके मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी और वन टाइम पासवर्ड आएगा आपको इन्हें भरकर सबमिट कर देना।

आपके ओटीपी को सबमिट करने के बाद थोड़ी ही देर में आपके मेडिसिन से जुड़ी तमाम महत्वपूर्ण जानकारियां आपके मोबाइल फोन पर आ जाएगी इससे आपको यह पता चल जाएगा कि आपने जो दवाई खरीदी है, वह असली है या फिर नकली।

तो दोस्तों ऊपर दिए गए 3 तरीकों के माध्यम से आप किसी भी तरीके को चुनकर आप की दवा असली है या नकली इस बात का पता लगा सकते हैं मैं आशा करता हूं कि आपको आपकी और आपके परिवार की हेल्थ को मध्य नजर रखते हुए एक बार इनमें से किसी एक तरीके का उपयोग खरीदी हुई दवाइयों पर अवश्य करना चाहिए।

लेकिन आप इस बात का अवश्य ध्यान रखें कि आप उन्हें दवाइयों का असली या नकली होने का पता लगा सकते हैं, जिन दवाइयां पर कंपनी द्वारा रजिस्ट्रेशन की हुई है, रजिस्टर्ड की गई दवाइयां पर ही आपको केवल कोड और मोबाइल नंबर उपलब्ध करवाया जाएगा आपने कोई दवाई खरीदी है और वह कंपनी रजिस्टर्ड नहीं है, तो आप दवाई असली है, या नकली इस बात का पता नहीं लगा सकते हैं।

निष्कर्ष :-

तो दोस्तों कैसा लगा आपको हमारा आज का ही आर्टिकल आज के इस आर्टिकल में हमने दवा असली है या नकली कैसे पता करे मोबाइल से, स्वास्थ्य से जुड़ी एक अहम जानकारी से आपको अवगत कराया है, हमने आपको इस आर्टिकल में दवा असली है, या नकली इस बात का कैसे पता लगे इसके बारे में विस्तार से बताया है, और यह जानना आपके लिए अत्यंत आवश्यक है तो हमारे ऊपर दिए गए आर्टिकल को आप ध्यान से पढ़ें और दी गई जानकारी को फॉलो करें।

आपको अगर हमारा आज का ही आर्टिकल पसंद आया है, तो इसे लाइक शेयर कमेंट अवश्य करें और इसे अपनी सोशल मीडिया साइट वह व्हाट्सएप ग्रुप पर अवश्य शेयर करें ताकि आपके दोस्तों को भी इस अहम जानकारी का पता चल सके और अगर आपको हमारे इस आर्टिकल में कोई कमी नजर आए तो हमें कमेंट सेक्शन में अवश्य बताएं हम आपके कमेंट का जल्द से जल्द रिप्लाई करेंगे।

Related Posts :-

Leave a Comment